• shriradhey_apt 45w

    कही पढ़ा हमनें अच्छा लगा तो यहाँ साँझा कर रहें है

    Read More

    तुम हमारी दोस्ती के चाहे कितने भी दरवाजे बंद कर लो

    हम वो दोस्त हैं जो दरारों से भी आएगें