• ajayamitabh7 31w

    तुम भी खुदा हो सकते हो #AJAY_AMITABH_SUMAN #GOD #HUMAN #YOPOWRIMO #POEM #HINDIPOEM #KAVITA #अजय_अमिताभ_सुमन #खुदा #कविता #ईश्वर #मानव #इंसान #भगवान #हिंदी

    Read More

    खुदा

    खुदा:कविता:अजय अमिताभ सुमन

    इससे कुछ फर्क नहीं पड़ता तुम कितना खाते हो.
    इससे भी कुछ फर्क नहीं पड़ता कितना कमाते हो.
    इससे कुछ फर्क नहीं पड़ता कि तुमने कितना कमाया है.
    इससे भी कुछ फर्क नहीं पड़ता तुमने कितना गंवाया है.

    दबाया है कितनों को कुछ पाने के लिए.
    जलाया है कितनों को पहचान बनाने के लिए.
    इससे भी फर्क नहीं पड़ता तुमने दूजों को रुलाया है.
    फर्क इससे भी नहीं पड़ता कि अपनों को सताया है.

    फर्क इससे पड़ता है कि तुम भी हँस सकते हो.
    तोड़ के बंधन सारे तुम भी उत्सव रच सकते हो.
    अंगुलिमाल हो या कि रत्नाकर बुद्ध छिपे इंसान में.
    फर्क इससे पड़ता है कि खुदा में तुम बस सकते हो.

    अजय अमिताभ सुमन
    सर्वाधिकार सुरक्षित