• soulful_scriptings 31w

    मेरे गुलशन में नया गुल खिलाने आयी हो..
    ज़रा ये बताओ बड़ी हिफाज़त से अपने दिल को संभाला है हमने..
    क्या उसे ही चुराने आयी हो?

    बड़े दिनों से महफूज़ मेरे सीने में आज आघात हुआ है।
    धड़कने तेज़ हो गई हैं..सांसों को भी कुछ हुआ है।

    ग़र तुमने चोरी नहीं की तो क्यों घबराई हो?
    ज़रा ये बताओ बड़े करीने से अपने होश संभाले हैं हमने..
    क्या हमारे ही होश उड़ाने आयी हो?
    ©soulful_scriptings