• shayartera 22w

    एहसास...१२९

    ➰➰➰➰➰

    " धुल जायेंगे सारे मरहम ,
    इस बरसात में फिर ,
    फिर वही ज़ख़्म चुभेगा ,
    दोबारा बरसात के साथ । "

    ।।✍ब्रिज।।
    ➰➰➰➰➰
    ©shayartera