• crystalsharma 6w

    इंतजार

    मेरी नींदों ने इस कदर कर ली है ,
    मुझ से दुश्मनी की, इन आंखों को बस आपके दीदार का इंतजार रहता है।
    ये आंखे बंद होती भी है ,तो बस सपने में आपको देखने के लिए ,वरना इन आंखो को खुलने के बाद फिर रात का इंतजार रहता है।
    ©crystalsharma