• jigneshpatel 10w

    Smriti(memory) means whatever has happened a moment or era ago.

    True spirituality and attachment to any form of memory are both contradictions,
    Because the mind divides the attachment of memory into good and bad memory and keeps the person in the illusion through his life span.

    ~Greetings.

    स्मृति का अर्थ है जो कुछ भी एक पल या युग पहले हुआ है

    सही आध्यात्मिकता और स्मृति के किसी भी रूप से लगाव दोनों विरोधाभास हैं,
    क्योंकि मन सिर्फ स्मृति के लगाव को अच्छी और बुरी स्मृति में विभाजित करता है और व्यक्ति को अपने जीवन काल में भ्रम में रखता है।
    नमन{Jignesh ~ An identity}