• sheetanjli 5w

    काश

    काश तुमने हमें ,
    अपनी "जान" कहा ही ना होता

    अगर "जान' कहते
    और "जान " मानते ही थे

    तो इन महफिलों में
    अपनी जान को हर शाम यूँ बदनाम ना किया होता
    ©sheetanjli