• angelizm 5w

    पैगाम

    आप अपने दिलबर की तारीफ करते रहे

    हम सिसकियों से हामी भरते रही

    शुक्र है यह किससे खत मे चलते रहे

    जो रु-बा-रु होते तो आँसुओं की चमक को खुशी का सैराब समझ लेते