• andaaz_e_shaayaraana 22w

    "ये उन दिनों की बात थी"

    ये उन दिनों की बात थी...
    जब हमने भी किसी से आशिकी की थी...
    ये उन दिनों की बात थी...
    जब तुम्हें देखते ही दिल की बेकरारी बढ़ने लगती थी...
    ये उन दिनों की बात थी...
    जब तुमको पागलों की तरह चाहने की दीवानगी सी थी...
    फ़िर मुख्तसर से हालात बदले...
    आशिकी, बेकरारी, दीवानगी...
    सिर्फ़ एक अधूरी कहानी बन गई थी...
    ये उन दिनों की बात थी...
    जब मैंने भी तुमसे मोहब्बत की थी...
    और आज भी है...

    # दिल से - वीर

    - अंदाज - ए - शायराना