• nsashu 23w

    याद करने को चीजें हज़ार हैं,
    पर हमे तो उनका हमपे चिल्लाना अच्छे से याद है..
    जिसपे हम भी मुस्कुरा कर उन्हें सुकून से सुन लिया करते थे

    सुकून... वो सुकून था सिर्फ़ उनके होने का, अब ना वो हैं ना वो सुकून।
    NS
    ©nsashu