• shubhangdimri 23w

    सियासत

    इस मज़हबी सियासत से यूँ परे वो हो गए,
    मसान मेरे मुल्क के क़ब्रों में जा के सो गए।
    ©शुभी