• amitakaaking 6w

    इश्क-ए-जुल्म

    तुम आ गए फिर, तुम रूला गए फिर
    मै खाली पन्नो सा हूँ बिखरा
    तुम आ गए फिर, नजरे चुरा गए फिर
    मै तड़पता हूँ जैसे मर रहा
    पहल देते बता तो होता इश्क-ए-जुल्म नही
    ना डर तुम्हे खोने का आैर ना रहता गुम कही
    ©Amit aka A-king