• prahlad_singh_shekhawat 5w

    दादाजी वक़्त काटने को अखबार मंगाते हैं
    और पोते हैं के ऑनलाइन इश्क़ सिखाते हैं
    ©prahlad_singh_shekhawat