• emotionsinked 22w

    बारिश की बूंदों की तरह है तेरी यादें,
    जितना भी बचूं भीग जाता हूँ मैं ।
    न जाने कितनी बारिशें गुजारीं थी तेरी बाहों में,
    मैं तो भूला नहीं तुमको
    क्या तुम्हें अब भी याद आता हूँ मैं ?
    @rjun