• artirajput04 5w

    दरिया को पार करके किनारे प फिसल जाते हैं।
    लोग चलते फिरते रस्ते से आगे निकल जाते हैं।
    हमेशा चुभते है आँख में ज़माने की शख्स ऐसे।
    जो बचपन मे बिगड़ते हैं जवानी में सँभल जाते हैं।

    #देवेश