• pritty_sandilya 6w

    रेत की तरह सरकती जिंदगी में तुम एक दरिया
    बनकर आए !!
    भागती दौड़ती जिंदगी में अस्त व्यस्त अपनों से
    पहचान कराये !!

    तेरे आने से पहले वक्त जो पराया बन मुंह मोडे
    खड़ा था इतने खुशनसीब हुए हम की गम की
    घटा में खुशियां मंद मंद मुस्कुराती हुई पहरा
    दे रही है !!

    तुझे खो ना दूं इस बात से डरती हूं ,खुशियों का क्या
    है उसका आना जाना तो जीवन का हिस्सा है पर संग
    तेरे जो अनमोल किस्सा है !!

    अजनबी तुझसे एक अनजाना सा रिश्ता है दिल की
    दरोदीवार में गहराता कोई अमीट वास्ता है !!

    अहसास तुझसे कुछ यूं जुड़ा है बातों में खोकर तेरी
    आंखों का देखा भी झुठा सा क्यूं लगने लगा है !!

    बहुत से चेहरे देखें मगर तेरी रूहानियत किसी ओर
    में देखि नहीं यह दिल का राबता है या नजर का फरेब है!!

    ख्वाबों से तेरा दुर जाना भी सिहरन सी पैदा करने लगी है
    तुम निंदो में आकर बुरे ख्वाबों से जगाया करते हो,
    कभी बनकर प्यास सुलगती लबों से लग जाया करते
    हो सुबह को बन ओश सर्द हवाओं संग लिपट जाया
    करते हो !!

    तुम जो साथ होते हो परायों का तंज ख्वाबों ख्यालों का
    छत विछत रंग अपनों का रंज सब खुशनुमा सा लगता है

    हाथ की लकीरें जो मिटने लगी थी मानो पुनः उभर रही
    हो तेरे होने का अहसास ही जिंदगी को जीने का सलीका
    सिखा रही है !!

    बस तेरे होने के अहसास से ही मन इतराती है ख्वाहीशों
    का बंवडर इठलाती है इस अहसास के सहारे किसी
    नए की तलाश नहीं अब !!

    #love #life #ishq

    #pritty_sandilya
    #Preet ��

    Read More

    ..

    ख़ुश हैं की लौट आए हैं सारे ख्वाहीश दरिया से चोट, खाकर , दुरुस्त हैं अब भी तेरे सहारे ज़ख्म पाकर !!
    Preet
    ©pritty_sandilya