• rebelliousleo 30w

    I am from you :'(

    Read More

    तू नदी भी तो है

    मेरा प्रतिबिम्ब (मुझपे विश्वास) जब तेरे जल में हिलता है
    तो जाने क्यों वही मेरे जीवन की सच्चाई बन जाती है

    निर्वात में, निर्भीक आकाश में ठोस चमकता चाँद मैं
    लहराते कपडे सा आकाश गंगा में कहीं खो जाता हूँ

    ©RebelliousLeo