• canetaic 23w

    मनुष्य का जीवन उसी
    राह पर चलता हैं,
    जिस राह में वो
    विश्वास रखता है।
    जैसा उसका विश्वास
    वैसा उसका जीवन।
    _श्रीकृष्ण