• abhishekmanukumar 23w

    कुछ के आँकड़ें कहते हैं
    कि इश़्क बस एक बार होता हैं
    हमसे मिलिये जनाब! हमें तो हर बार प्यार होता हैं

    कितने ही रंगीन टूकड़े दिल के
    बिख़रे पड़े हैं यहाँ वहाँ
    किसी को भी उठा लिजिये! कि धक धक तो हर बार होता हैं

    कमबख़्त! परेशानी हैं कि कोई दीवानगी
    हसीं चेहरे को छोड़िये साहब!
    साँवलों से भी तो हर बार आँखें चार होता हैं

    उलझ पड़े हैं शब्दों में आ कर
    रवानगी की ज़वानी कहिये कि उम्र का लिहाफ़!
    अमूमन लब़ चुप नहीं रहते हैं मनु! श़ोर तो हर बार होता हैं