• aanujbachhav 6w

    क़ुच ना सही में तुझे शेर-ए-शायरी सुना जाऊँगा
    तु वाह वहाई कर या इनकार मे मुँह बना जाना
    में मेरे जज़्बात खुलें आम बेच दुंगा
    तु अपने जज़्बात समज के मेह्सुस कर जाना...
    ©aanujbachhav