• khuranasahab 6w

    और तो क्या था बेचने के लिए,
    अपनी आँखों के ख़्वाब बेचे हैं...!