• i_anjaligupta 6w

    आज भी तुम मुझे जलाओगे
    और राम की जीत का जश्न मनाओग,

    गलत क्या किया था मैने?
    सीता कई वर्ष रही थी लंका मे मेरी
    पर कभी नहीं छुआ था उन्हें मैने,

    जो बच्चीओं को तक नही छोड़ते क्या तुम उन्हें भी जलाओगे?
    या आज भी सिर्फ मुझे ही जला कर संतुष्ट हो जाओगे

    मेरी सज़ा तो राम ने मुझे दे दी क्या तुम भी उन पापीयों को उनकी पापो की आग में जलाओगे?
    या फिर डर कर उनकी करनी से अपनी बहन,बेटीओं पर पाबंदीयां लगाओगे

    आज भी तुम किसी को भी राम बना कर उसका निशाना मुझे बनाओगे
    पर पता ह। तुम मुझे कभी नहीं मार पाओगे
    क्योंकि एक रावन को मारने के लिए क्या तुम खुद राम बन पाओगे?
    ©i_anjaligupta