• preetytiwari 10w

    #शरमाई मेरी #नजर और बयां
    तुम हो गये,
    #लफ्ज भी क्या बोलते ,# बेजुबाँ हो
    गये !
    तुमसे मिलने से पहले थे# आग,हम!

    आजकल बस"धुंआ- धुंआ हो गये,,

    #फासले कुछ ऐसे बढ़ा दिए # वक्त ने!
    "हम धरती तुम आसमां
    हो गए...........!!
    ©preetytiwari