• vickeybhardwaj 4w

    वो

    जहाँ तक वो आ गयी वहाँ कभी कोई मौजूद न था
    वो जितना मुझे सह गयी उतना तो उसका वजूद भी न था
    शायद वो थी जो मुझे मुझे सही से समझ पायी
    किसी और को तो मेरी आदते समझ मे ही नही आयी

    वो लड़की सही थी बस मुझसे गलत टाइम पे मिली थी
    और खिलेगी वो अभी तो आधी भी नही खिली थी
    मुझे इतना निभाया उसने यह उसकी समझदारी थी
    कुछ भी कहो यार वो लड़की बहुत प्यारी थी
    ©vickeygym