• adil_writes 22w

    एक पुत्र की लालच में पांच पुत्रीओ का जन्म हो गया

    1 नोटबंधी
    2 जीएसटी
    3 महंगाई
    4 बेरोजगारी
    5 मंदी

    पर साला विकास पैदा होनेका नाम ही नही लेता..