• _shraddha_rajput_ 9w

    महफ़िलो का दस्तूर भी कुछ ऐसा है कि
    हमारी 'आह' में भी यहाँ 'वाह' निकलती है।।

    ©_shraddha_rajput_