• kumar_atul 23w

    पता नहीं

    लिखता हूँ मैं तो ये अल्फ़ाज़ बिखर जाते हैं,
    .
    अब मैं उतना काबिल नहीं या फिर तेरी बात ही कुछ कमाल हैं।

    ©kumar_atul