• vijjus8722 11w

    न जाने क्यों आज उलझा हुआ सा है मन मेरा

    शायद तेरे दस्तक की आहट मालूम हो रही हो मुझे

    ओझल हो गए हैं सारे फ़साने न जाने अचानक से क्यों

    शायद फिर सारे शिकवे भूला मोहब्बत होने लगी है मुझे
    ©vijjus8722