• amandeep2001 5w

    कलम

    के बो जो खाब थे मेरे जेहन में ना मै कह सका ना लिख सका जुबा मिली मुझे कटी हुई कलम मिली पर बिकी हुई ✏️
    ©amandeep2001