• mayursingh17 23w

    ख़्याल आया

    एक शाम बेठे हुए अचानक से तुम्हारा ख़्याल आया
    वो ख़्याल मेरे चेहरे पे कई दिनों बाद मुस्कुराहट ले आया
    दिल की धड़कनें तेज हुई कुछ देर के लिए
    मानों फलक ज़मीं पे उतर आया
    हमें पता है कि तुम किसी और की हो अब
    फिर भी न जाने क्यों तुम्हारा ख़्याल आया
    एक शाम बेठे हुए तुम्हारा ख़्याल आया।
    ©mayursingh17