• devesh_mishra 22w

    Yaad

    आज तुम्हारे लगाए हुए पेड़ों पर आम आ गए,
    अमिया की भीनी खुशबू सूंघकर कुछ परिंदे शाम लेकर आ गए,
    तुमने कहा था भूलोगे नहीं मुझे,
    तुम्हारी याद में लिखे थे मैंने जो खत वो वापस मेरे नाम आ गए
    ©soul_rebellion