rani_shri

instgram.com/shrirani164

jha_ji_ki_ladki dil toota hai iraade nahi.koshish jaari rahegi.koi to milega.is janam nahi to agle janam hi sahi����

Grid View
List View
Reposts
  • rani_shri 3h

    किसी ने पूछा कि तुम्हारे ख़्वाब कितने बड़े हैं?
    हमने भी कह दिया कि मेरे ख़्वाब बस उतने ही बड़े हैं...
    कि जैसे बचपन में छत पर खड़े होकर किसी हेलिकॉप्टर को आसमान में उड़ते देखा करती थी,
    बस वैसे ही बड़े होकर आसमान में उड़ते हुए ख़ुद के हेलिकॉप्टर में बैठकर नीचे की छतों को देख सकूं...
    ✌✌✌
    ©rani_shri

  • rani_shri 18h

    Must read, it's not relatable but bahot feel kar ke likha hai..
    Please honest answer dena.

    Read More

    मेरे जाने के बाद.

    मेरे जाने के बाद,
    पता है मुझे कि तुम किस हाल में जीयोगे,
    पता है मुझे कि आंसुओं के घूंट भी पीयोगे
    लेकिन तुम्हें कैसे समझाऊं,
    उदास ना होने के लिये कैसे मनाऊं
    मेरे जाने के बाद,
    पता है मुझे कि तुम्हें पुरानी बातें याद आएंगी,
    पता है मुझे कि वो बातें तुम्हें हर पल रुलाएंगी,
    लेकिन तुम्हें कैसे बताऊं,
    मैं भी खुश रहूंगी ये कैसे दिखाऊं।
    मेरे जाने के बाद,
    पता है मुझे कि तुम बेवजह ही किसी पर भी बरसोगे,
    पता है मुझे कि तुम मुझसे मिलने को तरसोगे,
    लेकिन तुम्हें कैसे जताऊं,
    तुम्हारा आने वाला कल बहुत हसीं हैं ये कैसे दर्शाऊं।
    मेरे जाने के बाद,
    पता है मुझे कि पूरी तरह टूट के बिखर जाओगे,
    पता है मुझे कि तुम फ़िर निखरना नहीं चाहोगे,
    लेकिन तुम्हें कैसे एहसास करवाऊं
    मेरे अलावा भी बहुत कुछ है हासिल करने को, ये कैसे यकीं दिलाऊं।
    मेरे जाने के बाद,
    मुझे पता है कि तुम हंसना भी छोड़ दोगे,
    मुझे पता है कि तुम मोहब्बत की राह से मुंह मोड़ लोगे,
    लेकिन तुम्हें कैसे सुनाऊं
    मोहब्बत सच्ची हो तो फ़िर से हो सकती है, ये कैसे सिखाऊं।
    मेरे जाने के बाद,
    तुम्हें ख़ुद ही संभलना होगा
    रास्तों पर किसी और के साथ चलना होगा,
    मुझे पता है कि तुम बहुत रोओगे,
    न ठीक से खाओगे, न सोओगे।
    मुझे पता है तुम्हें वो वादे याद आएंगे
    आंसू भी एक के बाद एक आएंगे,
    तुम जब भी ख़ुद को अकेला पाओगे,
    मुझे याद करते ही ख़ुद के साथ पाओगे।
    मेरे जाने के बाद
    मुझे पता है कि बेचैनियां तुम्हें सताएंगी,
    तुम परेशान न होना कि अंधेरी रातें तुम्हें डराएंगी,
    और यादें भी रह रह कर चिढाएंगी,
    लेकिन याद रखना हमारी मोहब्बत अमर है,
    मुकमम्ल नहीं भी हुई तो भी कैसा डर है।
    सुनों तो, मैं हमेशा तुम्हारे पास हूं,
    खोजोगो तो सुकूं की एहसास हूं।
    मेरे जाने के बाद
    तुम्हें जिंदगी रास न आए,
    कोई सुंदर सा एहसास न आए
    मेरे जाने के बाद,
    मुझे पता है मेरी बातें तुम नहीं सुनोगे,
    और सिर्फ़ और सिर्फ़ तन्हाई ही चुनोगे,
    मेरे जाने के बाद...
    ©rani_shri

  • rani_shri 21h

    When needed, you knocked my door.
    When faded, you blocked your adore..
    ©rani_shri

  • rani_shri 1d

    ���������� @ru_malik for you✌✌✌��������

    Read More

    Ek pal, khyal aaya ki, kya koi hai jo mujhe mujhse bhi jyada pyaar karta hai?
    Agle hi pal tu yaad aa gayi..
    Or mujhe mere sawal ka jawab mil gaya..❤❤❤❤
    ©rani_shri

  • rani_shri 1d

    Dedicated to my beloved one..����
    A love that can never be yours, still you love that love..

    Read More

    एक अंजाना डर पनपता है मन में,
    आह सी उठती है हर धड़कन में
    ये कैसे मोहब्बत को जी रहे हैं हम
    जो मिल नहीं सकता,उसी में खो रहे हैं हम,
    फ़िर भी हर दिन एक दूजे के हो रहे हैं हम।

    आते हुए दिन और रातें हमें डराती हैं,
    हर पल बढती बेचैनियां हमें सताती हैं।
    ये कैसे रिश्ते में जी रहे हैं हम,
    आंसुओं से सींचकर मोहब्बत के बीज बो रहे हैं हम,
    जो हो कर भी हमारा नहीं उसी के हो रहे हैं हम।

    न किये कोई वादें हैं,न ठहरती कोई यादें हैं,
    जाने किस्मत के क्या इरादें हैं,
    ये कैसे रिश्ते से जी रहें हैं हम,
    जो तकदीर में नहीं,उसी के सपने देख सो रहे हैं हम।
    सिर्फ़ सपने तलक ही किसी के हो रहे हैं हम।

    कि जबकि ये तुझको भी ख़बर है,मुझको भी ख़बर है,
    कि आज तू तो कल कोई और हमसफ़र है,
    फ़िर कैसे रिश्ते लिये जी रहे हैं हम,
    क्या सिर्फ़ इस रिश्ते को ढो रहे हैं हम,
    जो होगा किसी और का कल,आज उसी के हो रहे हैं हम।

    माना आज दोनों के चेहरे पर खुशी है,
    मगर कल ग़म में तब्दील होगी जो आज ये हंसी है,
    फ़िर ये कैसे रिश्ते के लिये जी रहे हैं हम,
    हर पल आंसू के घूंट पी रहे हैं हम,
    आगे की सोच हर पल रो रहे हैं हम,
    फ़िर भी हर दिन एक दूजे के हो रहे हैं हम।
    ©rani_shri

  • rani_shri 2d

    Right??

    Read More

    Law of Life...

    The less someone says you to do a specific work,
    The more the desire to do that work predominates in you.Ex- Watching TV..

    And

    The more someone forces you to do a specific work,
    The less the desire to do that work starts producing in you. Ex- Studying..
    ©rani_shri

  • rani_shri 2d

    Bind someone in the bonds,
    Not in bounds...
    Make bond not bounds..
    ©rani_shri

  • rani_shri 2d

    #700thpost
    जाने किसने प्रेम की परिभाषा बदल दी...

    Read More

    क्या थे और क्या मायने हो गए,
    कमीं ख़ुद में थी और गंदे आईने हो गये,
    बिना जिस्म के अब बातें कहां होती,
    बातों में सच्ची जज्बातें कहां होती,
    रूह को समझने वाली भाषा बदल दी,
    जाने किसने प्रेम की परिभाषा बदल दी।

    न जाने मोहब्बत कैसे जिस्मानी हो गई,
    रूह की मोहब्बत जाने कहां खो गई,
    कोई बेवफ़ा हो कर भी ईमान है,
    तो कोई मोहब्बत कर के भी बदनाम है,
    क्यों जीने की पूरी आशा बदल दी,
    जाने किसने प्रेम की परिभाषा बदल दी।

    मोहब्बत कितनी भी सच्ची हो, जिस्म तक पहुंच ही जाती है,
    फ़िर रूह की कहां कोई बात रह जाती है,
    कहानियों में भी जिस्म की दरकार दिखाते यहां,
    जिस्म दे कर भी सच्ची मोहब्बत मिल पाती है कहां,
    और मोहब्बत के नाम पर सिर्फ़ आंसू मिलते यहां
    इंतज़ार, इकरार,ऐतबार सब निराशा बदल दी,
    जाने किसने प्रेम की परिभाषा बदल दी...
    ©rani_shri

  • rani_shri 3d

    तुम्हें ख़ुद से इतना दूर कर देंगे,
    हमें भूल जाओगे तुम,इतना मजबूर कर देंगे.
    ©rani_shri

  • rani_shri 3d

    मिल गईं खुशियां,
    खो गये ग़म..
    ख़ुद से दूरी हो गई,
    जब से तेरे पास हुए हम...
    ©rani_shri