Grid View
List View
  • shadabmalik 10w

    Word Prompt:

    Write a 3 word short write-up on Endure

    Read More

    Dismantle

  • shadabmalik 11w

    यारा होंठों पे लिये हुए दिल की बात ,
    याद करता हूँ तुझे मैं सारी सारी रात….

  • shadabmalik 11w

    ये लाली, ये काजल, ये जुल्फें भी खुली खुली ,
    तुम यूँ ही जान मांग लेती, इतना इंतजाम क्यूँ किया.

  • shadabmalik 11w

    मैं तुम्हारी कुछ मिसाल तो दे दूँ…….
    मगर जानां… !

    जुल्म ये है कि …
    बे-मिसाल हो तुम”

  • shadabmalik 11w

    मैं चाहता हूँ….तुझे यूँ ही उम्र भर देखूं,
    कोई तलब ना हो दिल में….तेरी तलब के सिवा …

  • shadabmalik 11w

    नहीं फुर्सत यकीं मानो हमें कुछ और करने की,
    तेरी यादें, तेरी बातें बहुत मसरूफ़ रखती हैं…

  • shadabmalik 11w

    माजरा क्या हे ये भी बता दो !
    आजकल ख्वाबों मे छा जाते हो…

  • shadabmalik 11w

    sidhi c bat hai

    लफ्जो की बनावट मुझे नहीं आती….
    मुझे तुमसे मोहब्बत है…सीधी सी बात है ।

  • shadabmalik 11w

    muskurate wo hai

    मुस्कुराते वो  है...

    और खुश्बू मेरे

    दिल में फैल जाती  है...!!

  • shadabmalik 11w

    zindagi m kuch haseen pal banke a gye

    जिन्दगी के कुछ हसीन पल बनके आ गये ,
    वो होठो पर मेरे गजल बनके आ गये ।।
    मै तो खण्हर हो गया था जमाने के लिये ,
    वो वाहो मै मेरी ताजमहल बनके आ गये ।।

    कट रहा था सफर मेरा धूप मै चलते चलते,
    वो रहो मै मेरी भीगे बादल बनके आ गये ।।

    भूल चुका था मै शायद इश्क के अहसासो को,
    वो दहलीज पर मेरी बीता कल बनके आ गये ।।

    टूटे छत से बरस रही थी वूँदे तन्हायी की ,
    वो सर्द रातो मै मेरी महल बनके आ गये ।।

    मै भटक रहा था प्यासा रेगिस्तान मै अकेला,
    वो हाथो मै मेरे मीठा जल बनके आ गये ।।

    कई सबाल उठ खडे थे उनके जाने के बाद,
    वो उन सारे सबालो का हल बनके आ गये ।।

    एक तस्बीर मैने बनायी थी अपने हमसफर की,
    वो हूँवहू उस तस्बीर की नकल बनके आ गये