syahi_thevoiceofheart

instagram acc.-@syahi_thevoiceofheart

Grid View
List View
  • syahi_thevoiceofheart 5w

    "मन महका-सा है"

    उसके आने से मन महका-सा है,
    था ये दिल शांत अब बहका-सा है।
    बहती हवा से भी अब घंटों बातें कर लेता हूँ,
    अटकी है सुबह कहीं और दिन बेचैन-सा है।

    खिड़की पर बैठा परिंदा जो दाने चुन रहा है,
    शोर करती खामोशी बातें सुन रहा है।
    बिछड़ रही हैं सांसे और वक़्त ठहरा-सा है,
    उसके आने से मन महका-सा है।

    हर बेसुरी शाम में वह तान छोड़ जाता है,
    उलझी हुई आवाज़ में कोई बात छोड़ जाता है।
    उसकी पैरों की आहट से दिल धड़का-सा है,
    उसके आने से मन महका-सा है।

    ©syahi_thevoiceofheart

  • syahi_thevoiceofheart 5w

    वो हंसता भी है और हंसाता भी है, वो बहता आग का दरिया है वो जलता भी है और जलाता भी है।
    ©syahi_thevoiceofheart

  • syahi_thevoiceofheart 6w

    चोट मिल जाए तो उसे आंखों तक ना आने देना,
    अक्सर लोग पूछ देते हैं,ये दर्द किसका है।
    ©syahi_thevoiceofheart

  • syahi_thevoiceofheart 6w

    पता नहीं ये इश्क़ हैं या कोई फ़रेब हैं।
    ख़ैर जो भी हैं बड़ा अजीब हैं।
    ©syahi_thevoiceofheart

  • syahi_thevoiceofheart 6w

    भटकाती निगाहों को एक तस्वीर मिल जाती, अगर तुम सांसों से उतरकर रुह में चली जाती।
    ©syahi_thevoiceofheart

  • syahi_thevoiceofheart 7w

    It is easier to find someone who can heal our Pain but exquisitely hard to keep them forever. We have to let them go after certain spell of time.
    ©syahi_thevoiceofheart

  • syahi_thevoiceofheart 7w

    वो बारिश की बूंद जैसी हैं,
    दिल बेपरवाह और उसकी बातें सुकून जैसी हैं।
    उसके ख्याल के बादल मन में आतें हैं,
    कुछ बरसते दिल पे कुछ साथ चले जाते हैं।
    चेहरे की लाली उसकी सुबह की धूप जैसी हैं,
    पतों से भी फिसल जाए वो बारिश की बूंद जैसी हैं।
    उसके पायलों की खनक सावन के गीत है,
    कजरारे हैं नयन उसके और मुस्कान गर्मी में शीत हैं।
    मैं मुरझाया पौधा और वो खिले फूल जैसी हैं,
    भीगाए मेरे मन को वो बारिश की बूंद जैसी हैं।
    @syahi_thevoiceofheart

  • syahi_thevoiceofheart 8w

    If footprint of happiness is wash out by the Pain of life..
    Don't look back make another one..

    ©__syahi

  • syahi_thevoiceofheart 8w

    उनकी आदत है नाराज़ होने की,
    खिड़की खोल दरवाज़ा बंद कर लेते हैं।
    ©__syahi

  • syahi_thevoiceofheart 8w

    तुमसे इश्क़ का ख्याल भी खामखां आता है,
    कमबख्त एक बार नहीं बार बार आता है।
    ©__syahi